Domain Authority Aur Page authority Kya Hota Hai, Ise increase kaise kare?

Domain Authority Aur Page authority Kya Hota Hai, Ise increase kaise kare?

दोस्तों वेलकम है आपका Smartlyblogger.com Blog पर जो आपको आज बताने वाले हैं Domain Authority Aur Page authority Kya Hota Hai, आज हम इसी टॉपिक में बात करने वाले हैं 

Domain Authority Aur Page authority Kya Hota Hai, Ise increase kaise kare?

तो दोस्तों अगर आपको भी नहीं पता कि Domain Authority Aur Page authority क्या होता है तो आप बने रहे इस पोस्ट पर आज हम इसी टॉपिक पर आपको बताने वाले की क्या Da और pa होता है क्या है इसके फायदे क्या होता है इसे इंक्रीज कैसे करें। 

तो दोस्तों हर कोई अपनी वेबसाइट को गूगल में रैंक करवाना चाहता है वह Da और pa की मदद से ही होती है दोस्तों इसकी वजह से गूगल पर टॉप पेजेज में रैंक करवा सकते है। 

जिसमें हमारी वेबसाइट जा पोस्ट रैंक कर सकती है अगर इन बातों पर ध्यान रखें जो आज हम आपको बताने वाले हैं वह आप भी अपनी वेबसाइट गूगल पर सर्चिंग में ला सकते हैं तो आपका टाइम ज्यादा वेस्ट ना करते हुए ते हुए शुरू करते हैं।

Domain Authority Aur Page authority Kya Hota Hai?

दोस्तों Domain Authority Aur Page authority वह होती है जो आपकी या किसी और की वेबसाइट की रैंकिंग जा पोस्ट की रैंकिंग बताती है Domain Authority वह होती है जो किसी भी वेबसाइट की रैंकिंग को बताती है। यह एक matric होता है। 

दोस्तो नई डोमेन का da कम रहता है। जैसे जैसे आपका डोमेन old होगा वैसे वैसे ही Da बढ़ता जायगा। दोस्तो da बढेगा तो रैंकिंग बढ़ेगी और स्ट्रांग organic ट्रैफिक आयेगा।

दोस्तो da का SEO (search engine optimization) में बहुत बड़ा fector है। दोस्तो अगर आपकी साइट search engine में रैंक करेगी तो एक बहुत अच्छा ट्रैफिक आयेगा ट्रैफिक आयेगा तो ज्यादा earning भी होगी।

जो Page authority होती है जो एक पेज की रैंकिंग को बताती है कि गूगल में उसकी क्या रैंकिंग है। दोस्तो Domain Authority को short term में DA कहा जाता है और Page authority को Short term में PA कहा जाता है।

दोस्तो इन दोनों को Moz ने बनाया है पर इनका गूगल से कोई लेना देना नही है। गूगल ने कभी भी इनका जिक्र नही किया। दोस्तो एक अच्छी pa और da से रैंकिंग में सुधार होता है।

Domain Authority Aur Page Authority Me diffrence Kya Hai?

दोस्तो जो डोमेन ऑथोरिटी होता है वह आपकी google पर साइट की रैंकिंग को दरशाती है। जितनी ज्यादा डोमेन ऑथोरिटी होगी वह उतनी ज्यादा आपकी साइट की रैंकिंग के Chances ज्यादा हो जाते है।

पेज ऑथोरिटी वह होती है जो आपकी पोस्ट जा पेज की रैंकिंग को दरशाती है। वह आपके पोस्ट्स जा पेजेज को रैंक करने में मदद करती है जितनी ज्यादा page authority होगी उतने chances ज्यादा हो जाते है आपकी पोस्ट जा पेजेज को रैंक करने में।

Domain Authority aur page Authority ko kaise badaye?

दोस्तो da और pa बढ़ाने के लिए कुज स्टेप्स होते है अगर आप उसे फॉलो करेंगे तो आप da इनक्रीस कर सकते है।

1. दोस्तो da और pa बढ़ाने के लिए ज्यादा लिंक्स बिल्ड करो। ज्यादा backlinks bnau दोस्तो अगर आप ज्यादा da और pa वाली साइट से बैकलिंक बना रहे है तो आपकी da और pa भी इनक्रीस होगी। दोस्तो अगर आप backlinks low quality वेबसाइट्स से लेंगे तो आपके da और प बढ़ने में टाइम लगेगा।

2. दोस्तो interlinking वह होती है आपके एक पेज को जो दुसरे पेज से जोड़ती है। वह interlinking होती है। da aur pa बढ़ाने में इसका भी बहुत जोगदान है। दोस्तो आप अगर अपने पोस्टस जा आर्टिकल्स जो नए है उसमे इंटरलिंकिंग करके da और pa बड़ा सकते है।

3. दोस्तो दोसर तरीका है कि आप दुसरो की पोस्ट्स में जाके कमेंट्स करे और अपनी पोस्ट जा साइट का लिंक दे जिसकी वजह से आपको do follow Backlink मिलेगा और इस से भी da pa बढ़ने में हेल्प मिलती है काफी ज्यादा।

4. दोस्तो जो 4th है वह सोशल मीडिया मार्केटिंग कहते है इस से काफी हेल्प मिलती है da और pa बढ़ने में क्योकि सोशल मीडिया से हमे एक refferal traffic मिलता है। दोस्तो इस से भी आप अपनी वेबसाइट जा पोस्ट को गूगल में रैंक करवा सकते है। दोस्तो इस से आपके जो फॉलोवर्स है वह आपकी साइट पे आयेगे। 

और वह अगर आर्टिकल पसंद आते है तो वह शेयर भी कर सकते है जा दोबारा भी विजिट करेगे जिस से ट्रैफिक मिलेगा आपकी वेबसाइट को।

5. Website speed दोस्तो यह da बढ़ाने में इसका भी बहुत एफेक्ट पड़ता है अगर आपकी वेबसाइट की लोडिंग स्पीड अच्छी है और फ़ास्ट ओपन होती है आपकी वेबसाइट तो गूगल उसे रैंक करवाता है जिस से ट्रैफिक तो आयेगा ही आयेगा उस से da aur pa भी बढ़ता है।

Conclusion

दोस्तो आज हमने आपको बताया है की Domain Authority Aur Page authority Kya Hota Hai, Ise increase kaise kare?

जिस से आप आसानी से da aur pa increase सकते है । और एक साइट जा पोस्ट को रैंक करवा सकते है। अगर आपको इसमे से कुज समझ न आया हो तो हमे कमेंट बॉक्स में जरूर बताय।

धनव्वाद!

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*